Categories
Education

Upsc भारत के सबसे कठिन एग्जाम्स में से एक, आखिर होगा भी क्यूं नही, अपने देश की सेवा करना लगभग हर किसी का सपना होता है।

हर साल अनेकों कैंडिडेट इस एग्जाम को देते है और उनमें से कुछ लोग सफल हो जाते है और कुछ लोग एक शिक्षा लेकर असफल हो जाते है।

लेकिन देश की सेवा का यह जनून हर साल नए लोगो को इस एग्जाम को देने को प्रेरित करता है, लेकिन इस एग्जाम को देने में नए लोगो को एक परेशानी होती है क्योंकि उन्हें नही पता होता को Upsc ki taiyari kaise karen।

वह लोग बिना किसी मार्गदर्शन के इस एग्जाम की तैयारी करते है और फिर वह असफल हो जाते है, इतने कठिन एग्जाम को बिना किसी मार्गदर्शन के पास कर पाना बहुत मुश्किल है।

हम यूपीएससी के बहुत से नए कैंडिडेट से मिले तो हमने पाया कि आधे से अधिक लोगो को तो इसकी तैयारी कैसे करने है के बारे में कुछ पता ही नही है।

इसलिए हमें यह ब्लॉग लिखने का आइडिया आया, यदि आप 1 या 2 साल से यूपीएससी की तैयारी कर रहे है, उनके लिए तो यह ब्लॉग केवल उनकी तैयारी में थोड़ा बहुत ही मदद कर पाएगा।

लेकिन यदि आप बिल्कुल नए है तो यह ब्लॉग आपकी यूपीएससी की तैयारी का सबसे पहला और सबसे महत्वपूर्ण कदम साबित होगा।

इस ब्लॉग में हम यूपीएससी की तैयारी के बारे में बिलकुल विस्तार से बात करेंगे तो इस ब्लॉग में अंत तक बने रहें।

UPSC का सिलेबस क्या है?

Upsc ki taiyari kaise karen यह जानने से पहले आपको यह जानना ज़रूरी है की upsc का syllabus क्या है, तभी आप upsc की तैयारी को अच्छे से कर पाओगे।

Upsc का syllabus कुछ इस प्रकार है -:

Preliminary Exams
Current events of national and international importance
History of India and Indian national movement
Indian and world geography
Indian polity and governance
Economic and social development
General issues on environmental ecology, biodiversity, and climate change
General science
Comprehension
Interpersonal skills including communication skills
Logical reasoning and analytical ability
Decision-making and problem-solving
General mental ability
Basic numeracy (class-X level)
Data interpretation (class-X level)

Mains exams के लिए सब्जेक्ट की लिस्ट बहुत लम्बी  है,  लेकिन हम आपको बता दे की आपको इन सब्जेक्ट्स की संख्यां देख कर डरना नहीं है,

जब आप अपनी upsc की तैयारी शुरू करोगे तो आप आसानी से समझ पाओगे की आपको इन्हे कैसे मैनेज करना है, आपको यह सब्जेक्ट्स सारे नहीं पढ़ने होते, 

इनमें कुछ महत्वपूर्ण कॉन्सेप्ट्स होते है,  जिनको आपको अलग अलग सब्जेक्ट्स की मदद से पढ़ना होते है। 

Upsc के exams में general knowledge और current अफेयर्स का बहुत महत्व होता है, आपको उन पर विशेष ध्यान देना होगा।

UPSC एग्जाम में कितने चरण है?

सबसे पहले तो हम upsc एग्जाम के चरणों के बारे में जान लेते है, upsc एग्जाम में हमें 3 चरण देखने को मिलते है -:

  1. Prelims
  1. Mains 
  1. Interview 

सबसे पहले एक prelims की परीक्षा होती है, इसमें 2 एग्जाम होते है, दोनो एग्जाम्स में मल्टीपल चॉइस प्रश्न आते है।

जब आप prelims परीक्षा को पास कर लेते हो, उसके बाद mains की परीक्षा आती है, इसमें 4 एग्जाम्स होते है, जिसमें एक एग्जाम ऑप्शनल टाइप होता है, एक essay का होता है, एक इंग्लिश और एक क्षेत्रीय भाषा का पेपर होता है।

जब mains का एग्जाम भी पास हो जाता है, उसके बाद कैंडिडेट को एक इंटरव्यू देना होता है, यह इंटरव्यू upsc का अंतिम चरण होता है।

UPSC पास कर आप क्या बन सकते हो?

UPSC में कुल 24 सर्विसेज होती है, इन सर्विसेज को 2 कैटेगरी में बांटा जाता है।

  1. ऑल इंडिया सर्विसेज
  2. दूसरी सेंट्रल सर्विसेज

ऑल इंडिया सर्विसेज एग्जाम के जरिए IAS और IPS को चुना जाता है।

दूसरी ओर सेंट्रल सर्विसेज में 2 तरीके के सर्विसेज ग्रुप होते है ग्रुप A सर्विस और ग्रुप B सर्विस।

ग्रुप A सर्विसेज के माध्यम से IFS, IRS, IRTS, IRPS और IIS के अधिकारियों को चुना जाता है, वहीं ग्रुप B सर्विसेज में AFHCS, PCS, DANICS जैसी सर्विसेज शामिल होती है।

इस तरीके से कुल 24 प्रकार की सर्विसेज यूपीएससी में शामिल होती है।

भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS)
भारतीय पुलिस सेवा (IPS)
भारतीय डाक सेवा (IPoS)
भारतीय विदेश सेवा (IFS)
भारतीय वन सेवा (IFoS)
भारतीय सूचना सेवा (IIS)
पॉन्डीचेरी सिविल सेवा (PCS)
भारतीय राजस्व सेवा (IRS)
रेलवे सुरक्षा बल (RPF)
भारतीय व्यापार सेवा (ITS)
पॉन्डिचेरी पुलिस सेवा (PPS)
दिल्ली, अंडमान निकोबार आईलैंड्स, लक्षद्वीप, दमन दीव, दादर नागर हवेली पुलिस सेवा (DANIPS)
दिल्ली, अंडमान निकोबार आइलैंड्स सिविल सेवा (DANICS)
इंडियन सिविल अकाउंट्स सर्विस (ICAS)
इंडियन ऑडिट एंड अकाउंट्स सर्विस (IAAS)
इंडियन डिफेंस अकाउंट्स सर्विस (IDAS)
इंडियन कॉर्पोरेट लॉ सर्विस (ICLS)
इंडियन कम्युनिकेशन फाइनांस सर्विस (ICFS)
इंडियन ऑर्डिनेंस फैक्ट्रीज सर्विस (IOFS)
इंडियन डिफेंस एस्टेट सर्विस (IDES)
इंडियन रेलवे अकाउंट्स सर्विस (IRAS)
इंडियन रेलवे ट्रैफिक सर्विस (IRTS)
इंडियन रेलवे पर्सनल सर्विस (IRPS)
इंडियन रेलवे ट्रैफिक सर्विस (IRTS)

घर पर बिना कोचिंग के Upsc ki taiyari kaise karen?

सबसे पहले क्या ऐसा करना संभव है?

जी हां, ऐसा संभव है, ऐसा बहुत से लोग जिन्होंने अपने घर पर बिना किसी कोचिंग के यूपीएससी की तैयारी की है।

यह बता कर हमनें अब तक बहुत लोगो का डाउट क्लियर कर दिया होगा, लेकिन ऐसा कैसे किया जाए, इस सवाल का जवाब जान लेते है।

घर पर upsc की तैयारी करने के लिए आप को सबसे पहले तो आपको अपने आप पर भरोसा रखना है और आपको खुद समझना है की क्या आप खुद के दम पर अपने कॉन्सेप्ट को समझ सकते है।

यदि हां तो आप घर पर यूपीएससी की तैयारी कर सकते हो, इसके लिए आप सबसे पहले तो यूपीएससी के syllabus को समझें और फिर एक रणनीति बनाए की आप की तरीके से तैयारी करने वाले हो।

रणनीति बनाना बहुत जरूरी है क्योंकि आपको जो भी करना है, अपने दम पर करना है, इसके बाद आपको अपनी तैयारी शुरू कर देनी है, नीचे हमनें upsc ki taiyari kaise karen के ऊपर अलग से टिप्स दिए है, आप उन्हे तो अवश्य ही पढ़ें।

Upsc ki taiyari kaise karen?

अब हम अपने आज के मुख्य टॉपिक upsc ki taiyari kaise karen के बारे में बात करते है।

यहां हमनें नीचे कुछ स्टेप्स बताए है, यह पूरे डिटेल्ड स्टेप्स है, जिसमें आपको पता चलेगा के आप बिल्कुल शुरू से अंत तक यूपीएससी की तैयारी कैसे कर सकते है।

हमें पूरा विश्वास है की आप जब इन स्टेप्स को पढ़ लगे उसके बाद आप को upsc ki taiyari kaise karen के बारे में ओर सर्च नहीं करना पड़ेगा।

बस इन स्टेप्स को पढ़ें ओर फिर आप तैयार है अपने यूपीएससी के एग्जाम्स की तैयारी के लिए।

सिलेबस को समझे

Upsc ki taiyari kaise karen इस सवाल के जवाब के उत्तर में जो फर्स्ट स्टेप हम आपको बताना चाहेंगे, वह हैं की आप upsc की सिलेब्स को समझें।

यह तो बिल्कुल जाहिर सी बात है की आपको यदि यूपीएससी की तैयार करनी है तो आपको सबसे पहले तो उसका सिलेबस ही समझना होगा।

सिलेबस समझने के बाद ही आप आपकी तैयारी में आगे के स्टेप्स को ले पाओगे।

तैयारी की शुरुआत

हम कोई भी काम कर रहे हो तो उसकी शुरुआत कैसे हों रही है यह बहुत मायने रखती है, यदि हम शुरुआत अच्छे से करते है तो हमारे काम के अच्छे से पूरे होने की संभावना बहुत अधिक बढ़ जाती है।

upsc ki taiyari kaise karen आपके इस सवाल को ध्यान में रखते हुए, हमनें यूपीएससी की शुरुआत कैसे करनी है, इसके लिए भी कुछ स्टेप्स बनाए है,

इस से आपको इस सवाल के बारे में बहुत अच्छे से जानकारी हो जाएगी।

Time Table बनाये

सबसे पहले तो आप एक टाइम टेबल बनाए, तैयारी की शुरुआत करने से पहले आप अच्छे से अपने टाइम को मैनेज करें।

हमने सबसे पहले आपको यूपीएससी के सिलेब्स के बारे में समझने के लिए इसलिए ही कहा था, क्यूंकि सिलेबस को अच्छे से समझने के बाद ही आप एक अच्छा टाइम टेबल बना पाओगे।

रोजाना पढ़ना जरूरी

अगली चीज जो आपको tyari की शुरुआत के समय ही समझ लेनी है की यदि आप अच्छे से इस एग्जाम की तैयारी करना चाहते है तो आपको रोजाना पढ़ना बहुत जरूरी है।

यूपीएससी एक competitive एग्जाम है, बहुत सारे लोग इस एग्जाम को पास करने के लिए कड़ी मेहनत करते है तो आपको भी उनकी तरह मेहनत करनी होगी और रोजाना पढ़ने के आदत बनानी होगी।

रिवीजन बहुत जरूरी

सबसे बड़ी गलती जो की यूपीएससी एग्जाम की तैयारी कर रहा व्यक्ति करता है, वह है की वह रिवीजन के बारे में भूल जाता है।

लेकिन आप जो भी पढ़ रहे हो, आपको उनका रिवीजन करना अति आवश्यक है, तभी आप अपनी taiyari को बहुत अच्छे से कर पाओगे।

इसलिए अपने upsc ki taiyari kaise karen सवाल के उत्तर में यह चीज जोड़ ले की आपको अच्छे से रिवीजन करनी है।

अपनी tyari की शुरुआत में ही अपने टाइम टेबल बनाते समय ही आप यह तय कर ले की आप अपने रिवीजन को किस तरीके से मैनेज करने वाले हो, यह आपकी यूपीएससी की तैयारी को बहुत अच्छा कर देगी।

Old Question Paper

आप चाहे किसी भी एग्जाम की तैयारी कर रहे हो, चाहे आपने अपने स्कूल के एग्जाम ही क्यों ना दिए हो, आपने एग्जाम्स से पहले हमेशा उस एग्जाम के पुराने question paper तो जरूर सॉल्व किए होंगे।

आपको आपने Upsc की तैयारी करते समय भी ऐसा ही करना है, लेकिन इसमें आप अपनी tyari के साथ ही पुराने question पेपर्स को सॉल्व करना शुरू कर दे।

इस से आपको इस एग्जाम का पैटर्न समझ आएगा और आप यह भी जान पाओगे की किस सेक्शन के सवालों पर आपको अधिक फोकस करना है।

प्रतिदिन अखबार जरूर पढ़ें

यूपीएससी के एग्जाम में बहुत अधिक करेंट अफेयर्स के प्रश्न पूछे जाते है, इसलिए आपको इसकी अच्छे से तैयारी करनी होगी।

इसके लिए केवल करेंट अफेयर्स की बुक्स पढ़ना काफी नही है, क्योंकि बुक्स तो एक बार छप गई है तो उसमें नई जानकारी कैसे आएगी।

इसलिए इसके लिए आपको अखबार पढ़ना शुरू कर देना चाहिए, आपको हर रोज अखबार पढ़ना चाहिए, इस से आपको देश दुनिया में घटित हो रही चीजों के बारे में पता चलेगा।

इस से आपकी नॉलेज बढ़ेगी और आप अपनी यूपीएससी की tyari को बहुत ही अच्छे ढंग से कर पाओगे।

हमने इस upsc ki taiyari kaise karen ब्लॉग को लिखने के लिए जितने भी यूपीएससी पास कर चुके लोगो से बात की, उन में से लगभग सभी ने यह अखबार पढ़ने वाली टिप दी।

Ncert की पुस्तक पढ़ें

आपकी यूपीएससी की tyari में Ncert की बुक्स आपकी बहुत मदद करेंगी, आप लोग 5th से 12th क्लास की ncert बुक्स को अपने सिलेबस के अनुसार पढ़ें।

इस से आपको आपकी तैयारी में बहुत फायदा मिलेगा, Ncert की किताबो में जानकारी बहुत अच्छे से सरल भाषा में दी होती है, साथ में यह बुक्स काफी विश्वसनीय है, इनमें दी गई जानकारी बहुत सटीक होती है।

इसलिए आप अपनी upsc की tyari के लिए Ncert बुक्स का प्रयोग कर सकते हो।

अपने डिटेल नोट्स बनाए

आप अपनी तैयारी करते समय, अपने खुद के लिए डिटेल नोट्स बनाए, बहुत लोग दूसरों के बने नोट्स को इस्तेमाल करते है।

लेकिन हम आपको वह करने की राय नही देंगे, आप अपने नोट्स खुद ही बनाए, इस से आपको बहुत फायदा मिलेगा।

सबसे पहले तो आप जब पढ़ाई करते समय नोट्स बनाएंगे तो यह आपको concepts को ओर बेहतर तरीके से समझने में मदद करेगा, साथ में जब आप रिवीजन करोगे तब भी यह आपके नोट्स आपकी बहुत मदद करेंगे।

आखरी फायदा आपको आपके नोट्स का तब मिलेगा, जब आपका एग्जाम आने वाला होगा, तब उस समय आपके यह खुद के बनाए नोट्स आपको एंड टाइम रिविजन करने में बहुत मदद करेंगे।

अभ्यास यूपीएससी टेस्ट दें

बहुत लोग इस प्वाइंट को समझ नही पाए होंगे, लेकिन चिंता के बात नही है, हम इसे अच्छे से आपको समझा देंगे।

जब भी कोई हमें पूछता है की upsc ki taiyari kaise karen या फिर कोई ओर एग्जाम की तैयारी कैसे करें तो हम उसको यह टिप अवश्य देते है।

इसमें आपको क्या करना है की जैसे ही आपकी तैयारी बहुत हद तक अच्छे से हो जाए और आपका एग्जाम भी आने वाला हो, तब आप यूपीएससी टेस्ट देने का अभ्यास करें।

आप कोई पुराना question paper ले या फिर इंटरनेट पर किसी ने कोई संभावित question paper बनाया हो, आप उसे ले।

उसके बाद आप अपने घर पर ही ऐसे एग्जाम दे जैसे की आप upsc का असली एग्जाम दे रहे हो, आप असली यूपीएससी टेस्ट में जो टीम लिमिट होती है, उस से थोड़ी कम टाइम लिमिट ही रखें।

यूपीएसएसी के prelims में 2 घंटे की टाइम लिमिट होती है और mains एग्जाम्स में 3 घंटे की टाइम लिमिट होती है।

यह अभ्यास एग्जाम देने के बाद जब आप उसे चेक करोगे तो आपको पता चल जायेगा की आप किस क्षेत्र में कमजोर हो और आप उसके अनुसार आगे की रणनीति बना पाओगे।

मैटेरियल कम रिविजन अधिक

जब हम इस ब्लॉग को लिखने के लिए जानकारी इकट्ठा कर रहे थे, तो हमने बहुत यूपीएससी टॉपर्स के इंटरव्यूज को पढ़ा, साथ में यूपीएससी की तैयारी कर रहे छात्रों के साथ भी बात की।

उनसे बात करके हमें इस प्वाइंट को यहां add किया है, उन लोगो का कहना है की upsc ki taiyari kaise karen ऐसा सर्च करने पर हमें तरह तरह का स्टडी मैटेरियल तैयारी के लिए मिल जाएगा।

लेकिन आपको उन सभी स्टडी मैटेरियल से नही पढ़ना है, आपको एक स्टडी मैटेरियल रखना है और बस उसे पढ़ना है और जितना हो सके, उसे रिवाइज करना है।

यदि आप अधिक स्टडी मैटेरियल से पढ़ोगे तो आप किसी में भी अच्छे से तैयारी नही कर पाओगे।

सफल व्यक्तियों से प्रेरणा ले

Upsc एक बहुत ही कठिन एग्जाम है, क्योंकि बहुत सारे छात्र इस एग्जाम को क्लियर करने के लिए निरंतर कड़ी मेहनत करते है।

तो जब आप इस एग्जाम की तैयारी कर रहे होंगे, आपके साथ ऐसा बहुत बार होगा की आप अपनी तैयारी में धीमे हो जाएंगे।

आपका होंसला उस वक्त टूटने लगेगा, ऐसे में आप उन सफल व्यक्तियो से प्रेरणा ले सकते हो, जो की आज यूपीएससी एग्जाम के पास करके देश की सेवा कर रहे है।

आप उन लोगो को देखिए, उन लोगो को भी उन्ही परेशानियों से झूझना पड़ा था, जिनसे आज आप झुझ रहे हो, यह आपको आपके इस upsc ki taiyari kaise karen सफर में हौंसला देगी।

हर एक व्यक्ति के पास उसको होंसला देने के लिए कुछ होना चाहिए, जैसे यदि हम अपनी बात करें तो हम अपनी जिंदगी में रहीम जी के दोहों को पढ़कर बहुत होंसला प्राप्त करते है।

UPSC वाले मित्रों के साथ एक ग्रुप बनाए

हम इस प्वाइंट को इस ब्लॉग में add करते समय थोड़ा कन्फ्यूज थे की इसे add करना भी चाहिए या नहीं।

लेकिन अंत में हमनें इसे कुछ सोच समझ के यहां लिख ही दिया, हम इसमें यह कहना चाहते है की आप अपनी यूपीएससी की तैयारी के लिए यूपीएससी कर रहे मित्रो के साथ एक ग्रुप बना सकते हो।

इससे आप एक दूसरे की यूपीएससी की तैयारी में मदद कर सकते हो, लेकिन आपको इसमें थोड़ा सा सोच विचार कर के ही ज्वाइन करना है।

क्यूंकि ग्रुप्स की सबसे बड़ी दिक्कत यही है की बहुत बार इसमें पढ़ने के बजाय समय बर्बादी होती है, तो इस स्टेप को अपने अनुसार सोच समझ कर ही अपनाए।

तो यह थी कुछ टिप्स upsc ki taiyari kaise karen के ऊपर।

10वीं के बाद आईएएस की तैयारी कैसे करे?

आप 10वीं के बाद से ही आईएएस की तैयारी को शुरू कर सकते हो, लेकिन इसके लिए आपको कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। 

जब आप 10वीं के बाद आईएएस की तैयारी शुरू कर दो तो आपको इसके साथ अपनी स्कूल की पढाई को भी अच्छे से करते रहना है। 

आपको अपनी स्कूल की पढाई के साथ कोई समझौता नहीं करना है, साथ में स्कूल में जो हिस्ट्री और पोलिटिकल सब्जेक्ट्स है उन पर आपको अपना पूरा फोकस रखना है। 

Upsc की exams की तैयारी के समय भी कैंडिडेट 6th से 12th क्लास की हिस्ट्री को पढ़ते है, इसके साथ कुछ ओर सब्जेक्ट्स की तैयारी करते है तो आप उनपर भी अपना फोकस रखें। 

10वीं के साथ आईएएस की तैयारी करते समय आप पर बहुत प्रेशर आ सकता है तो आप अपनी मेन्टल हेल्थ पर खास ध्यान दे और चीज़ो को शुरू से ही मैनेज कर के चले। 

यदि आप से चीज़े मैनेज नहीं भी हो रही तो ही आप स्ट्रेस ना ले और शांति से कोई समाधान निकालने की कोशिश करें। 

हम जानते है की आईएएस बनना आपका सपना है और आप इसके लिए जल्द से जल्द तैयारी शरू करना चाहते है, लेकिन अपने ऊपर भी ध्यान दे और अपनी लिमिट को हद से अधिक पुश ना करें। 

12वीं के बाद आईएएस की तैयारी कैसे करें?

12वीं के बाद upsc ki taiyari kaise karen यह सवाल बहुत बार पूछा जाता है, अधिकतर लोग 12वीं के बाद ही upsc की तैयारी शुरू कर देते है।

आप भी यदि ऐसा ही करना चाहते तो सबसे पहले आपको एक बात समझनी है की Upsc का एग्जाम देने के लिए आपकी उम्र minimum 21 साल होनी चाहिए और आपके पास एक bachelor’s डिग्री भी होनी चाहिए।

उसके बाद ही आप upsc का एग्जाम दे सकते है, इसका अर्थ यह हुआ की आपको 12वीं करने के बाद अपनी upsc की तैयारी के साथ अपनी कॉलेज की पढ़ाई भी करनी है और एक bachelor की डिग्री भी लेनी है।

ऐसा में आप B.A हिस्ट्री के साथ कर सकते है, क्योंकि आपको आपके यूपीएससी के एग्जाम के लिए भी हिस्ट्री पढ़नी है तो आपकी डिग्री के साथ आपकी थोड़ी तैयारी भी हो जाएगी।

वैसे यह एक मात्र तरीका नही है, आप किसी ओर bachelor डिग्री के साथ भी यूपीएससी की तैयारी कर सकते है, यह पूरा आपके ऊपर है।

12वीं के बाद upsc ki taiyari kaise karen इस सवाल का कोई अलग जवाब नही है, नीचे हमनें जो टिप्स दिए है वह हर किसी के लिए मददगार है तो आप नीचे दी गई हुई टिप्स को पढ़ें और उनको फॉलो करें।

आपको यह भी पसंद आएगा -:

Conclusion on upsc ki taiyari kaise karen

तो यह था ब्लॉग upsc ki taiyari kaise karen के बारे में, हमने इस ब्लॉग में upsc की तैयारी के बारे में पूरी डिटेल में बात की। 

इस वजह से ब्लॉग थोड़ा लम्बा भी हो गया, लेकिन कोई बात नहीं हमें आशा है की आपको इस ब्लॉग में upsc ki taiyari kaise karen के बारे में पूरी जानकारी मिल गयी होगी। 

आप हमारे इन स्टेप्स को फॉलो करे और upsc को पास कर के देश की सेवा में जुट जाएँ। 

हमें आशा है की आपको यह ब्लॉग पसंद आया होगा, यदि आया है तो आप हमें कमेंट के माध्यम से अवश्य बताए। 

FAQ about upsc ki taiyari kaise karen

आईएएस कितने साल का कोर्स है?

यह हर व्यक्ति की क्षमता के ऊपर निर्भर करता है, कोई कोई व्यक्ति आईएएस को एक साल में ही क्लियर कर देता है तो किसी किसी को इसके लिए 2 से 3 साल भी लग जाते है। 

आईएएस बनने के लिए कितने पेपर देने पड़ते हैं?

आईएएस बनने के लिए 2 पेपर Preliminary Exam और Mains Exam देने होते है, उन्हें पास करने के बाद कैंडिडेट को एक इंटरव्यू देना होता है।